भाषायें

Buy
X
Get in touch
 
1 Start 2 Complete
X
Get in touch
 
1 Start 2 Complete
Send OTP
जमा करें

तकनीकी गाइड

परत की बेहतर क्षमता और प्रदर्शन के लिए सतह की सही तैयारी करना महत्वपूर्ण है। इसलिए हमने स्टील प्लेट की सतह का प्रारंभिक ट्रीटमेंट, निर्मित स्टील की सतह का सेकेंडरी ट्रीटमेंट और रिपेयर पेंट को लगाने का विवरण दिया है।

नीचे दिया गया प्रारंभिक सतह का ट्रीटमेंट स्टील की प्लेट्स पर किया जाना है।

  • सॉल्वेंट में गीले किए गए ब्रश या साफ़ कपड़े से पोंछकर या झाड़कर सतह पर लगे तेल या ग्रीस को हटाना चाहिए। स्टील पर मजबूती से जमी परतों को खुरचने के बाद सॉल्वेंट से साफ़ किया जाना चाहिए।
  • स्टील की सतह पर जमे क्लोरीन और सल्फ़ेट्स जैसे क्षारीय लवणों को ताज़े पानी से धो कर साफ़ करें। स्टील को सूखे कपड़े से पोंछ कर या गर्म हवा को तेज़ी से छोड़कर पानी और नमी को हटाया जाना चाहिए।
  • आईएसओ मानकों को पूरा करने के लिए सारे मिल स्केल, जंग, जंग की परतें, पेंट के निशान और अवांछित पदार्थों को ग्रिट या सैंड ब्लास्टिंग द्वारा हटाया जाना चाहिए।
  • प्राइमर लगाने से पहले धूल, रेत के अवशेष, स्टील के टूटे टुकड़े या ग्रिट और अन्य सभी दूषित पदार्थों को वैक्यूम क्लीनर या एयर ब्लोअर द्वारा हटाया जाना चाहिए।

दोषपूर्ण या क्षतिग्रस्त भागों को ब्लास्टिंग या पावर टूल के द्वारा साफ़ किया जाना चाहिए। बाद के कोट्स को लगाने से पहले सतह को साफ़ करने के लिए ग्रीस को हटाने या धुलाई की ज़रूरत पड़ सकती है। ऐसा करने के लिए, नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

  • कठोर फ़ाइबर या तारों का ब्रश या दोनों का इस्तेमाल करके सतह से क्षारीय लवण, चॉक, निशान, मिट्टी या अन्य अवांछित तत्वों और दूषित पदार्थों को हटाएं।
  • सॉल्वेंट्स का उपयोग करके जमे हुए तेल और चिकनाई को हटाएं।
  • वेल्ड किए गए भाग में वेल्डिंग से निकले पदार्थ, वेल्डिंग में टूट कर छितरे मेटल के टुकड़े, जमा हुआ वेल्डिंग का धुंआ, जंग लगी हुई और क्षतिग्रस्त पेंट की परत को हटाने के लिए ब्लास्ट क्लीनर या पावर टूल का उपयोग कीजिए।
  • धूल, रेत के अवशेष और अन्य दूषित पदार्थों को साफ़ करने के लिए वैक्यूम क्लीनर का उपयोग करें।

सतह की तैयारी की गुणवत्ता पेंट की परत की क्षमता और प्रदर्शन को प्रभावित करेगी। इसलिए पेंटिंग शुरू करने से पहले सतह की तैयारी का तरीका और ग्रेड दोनों का सही चुनाव करना महत्वपूर्ण है। निम्नलिखित कारक सतह के ट्रीटमेंट के तरीकों के चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं:

सतह की भौतिक और रासायनिक सफ़ाई

  • सतह की स्थिति
  • सतह की प्रोफ़ाइल
  • पेंट की विशेषताएं
  • सुरक्षा के पहलू
  • पर्यावरण के लिए बाध्यता
  • उपलब्ध उपकरणों का प्रकार
  • पिछले ट्रीटमेंट का प्रकार

प्री-ट्रीटमेंट और पेंट सिस्टम का प्रकार तय करते समय इसमें लगने वाली बड़ी धनराशि का ध्यान रखा जाना चाहिए।

प्रक्रिया परिणाम
ब्लास्ट क्लीनिंग  आदर्श
यांत्रिक वायर-ब्रशिंग        स्वीकार्य
यांत्रिक डिस्क-सेंडिंग  स्वीकार्य
सुई से काटकर तोड़ना  संतोषजनक
यांत्रिक स्क्रैपिंग   संतोषजनक
हाथ से ब्रश करके   खराब
हाथ से खुरच कर  खराब
पानी की तेज़ धार से सफ़ाई        स्वीकार्य
प्रणाली (एसएसपीसी) (NACE) (एनएसीई) बीएस:4232-67
सॉल्वेंट की सफ़ाई एसएसपीसी एसपी 1 - -
हैंड टूल की सफ़ाई  एसएसपीसी-एसपी 2      एसटी- 2(लगभग) -
पावर टूल की सफ़ाई एसएसपीसी-एसपी 3 - -
फ़ेम क्लीनिंग  एसएसपीसी-एसपी 4 - -
व्हाइट मेटल ब्लास्टिंग  एसएसपीसी-एसपी 5 एनएसीई 1                                                     एसए-3 फ़र्स्ट क्वालिटी
वाणिज्यिक ब्लास्टिंग एसएसपीसी-एसपी 6  एसए-2      थर्ड क्वालिटी
ब्रश ऑफ़ ब्लास्टिंग   एसएसपीसी-एसपी 7  एनएसीई 4 एसए-2 -
पिकलिंग एसएसपीसी-एसपी 8 - - -
वेदरिंग और ब्लास्टिंग  एसएसपीसी-एसपी 9 - -
नीयर व्हाइट मेटल ब्लास्टिंग एसएसपीसी-एसपी 10 एनएसीई 2 एसए-3 सैकेंड क्वालिटी

 

*स्टील स्ट्रक्चर पेंटिंग काउंसिल के विनिर्देश

नेशनल एसोसिएशन ऑफ़ कोरोज़न इंजीनियर्स के विनिर्देश

स्वीडिश स्टैंडर्ड

ब्रिटिश स्टैंड्रड विनिर्देश

अल्युमीनियम/टिन/कॉपर/ब्रास और अन्य अलोह धातु:

  • सूखी और साफ़ सतह
  • हर प्रकार के तेल/चिकनाई से मुक्त
  • साफ़ की गई सतह को कम दबाव वाले गैर-धातु अपघर्षक का उपयोग करके स्वीप ब्लास्ट या रगड़ा जाना चाहिए, इसके बाद वॉश प्राइमर का एक कोट लगाया जाना चाहिए।

ज़िंक चढ़ा हुआ स्टील:

  • तेल/चिकनाई से मुक्त
  • ज़िंक से उत्पन्न सफ़ेद जंग को साफ़ पानी की तेज़ धार से धोना चाहिए।
  • घुलनशील ज़िंक लवणों को हटाने के लिए पानी से धोने की सलाह दी जाती है।

स्टेनलेस स्टील:

  • स्टेनलेस स्टील पर कोटिंग से पहले सतह की विशेष तैयारी की ज़रूरत नहीं पड़ती। बस इसकी सतह तेल, चिकनाई, गंदगी और अन्य अवांछित पदार्थों से मुक्त होनी चाहिए।
  • कोटिंग का अच्छी तरह चिपकना सुनिश्चित करने के लिए स्टेनलेस स्टील पर एक सतह प्रोफ़ाइल का बनना ज़रूरी है।
  • अधिकांश कोटिंग प्रणालियों के लिए 1.5 से 3.0 मिल की गहराई वाली प्रोफ़ाइल का सुझाव दिया जाता है।

कॉन्क्रीट और चिनाई की सतहें:

कॉन्क्रीट की नई सतह:

  • कोटिंग किए जाने के कम से कम 30 दिन पहले तक ठीक होने के लिए छोड़ना चाहिए।
  • कॉन्क्रीट/चिनाई में नमी की मात्रा 6 प्रतिशत से कम होनी चाहिए।
  • बड़े क्षेत्रों या गंभीर एक्सपोजर की स्थिति में, सतह को लाइट ब्लास्टिंग के द्वारा तैयार किया जाना चाहिए। उन जगहों पर जहां ब्लास्टिंग नहीं की जा सकती, लियाटेंस (ज़्यादा गीले मिश्रण की वजह से कॉन्क्रीट के ऊपर बनी सीमेंट की महीन सतह) को हटाने के लिए तारों के ब्रश का उपयोग करना चाहिए। इसके बाद जलमिश्रित हाइड्रोक्लोरिक एसिड से साफ़ किया जाना चाहिए।
  • प्राइमर लगाने से पहले सतह को पूरी तरह सूखने दें।

कॉन्क्रीट की पुरानी सतह:

  • चिकनाई और तेल जैसे सतह को दूषित करने वाले तत्वों को सॉल्वेंट से पोंछकर या 10% कास्टिक सॉल्युशन से साफ़ करें।
  • सतह को लाइट ब्लास्टिंग के द्वारा तैयार किया जाना चाहिए। उन जगहों पर जहां ब्लास्टिंग नहीं की जा सकती, जलमिश्रित हाइड्रोक्लोरिक एसिड डालकर साफ़ करें।
  • एसिड और दूषक तत्वों को पानी से धोकर साफ़ करें।
  • सुनिश्चित करें कि सतह और जोड़ों पर एसिड सॉल्युशन बाकी न रहे।
  • प्राइमर लगाने से पहले सतह को पूरी तरह सूखने दें।

लकड़ी की सतहें:

  • गंदगी/चिकनाई/तेल को एक या ज़्यादा केमिकल क्लीनिंग के तरीके अपनाकर साफ़ करें।
  • गांठ, कील, छेट, दरारों आदि को उपयुक्त फ़िलर कमपाउंड से भरा जाना चाहिए, अगर कम चिपकी हुई कोटिंग हो तो उसे खरो#2306;च कर निकाल दें और समतल बनाने के लिए सतह को रगड़ दें। टूटती सतहों को अच्छी तरह धो कर साफ़ करें और कोटिंग से पहले पूरी तरह सूखने दें।
  • Chalky surfaces should be washed cleanly and dried well before coating.

SEND US YOUR QUERIES

हमें अपने प्रश्न भेजें